जलजमाव की समस्या पर PIL दायर करेंगे पप्पू यादव , पूछा-10 साल में कहां गए 29 हजार करोड़?

बाढ़ और जलजमाव से जूझ रही बिहार की राजनीति पटना के राजेंद्र नगर के कुछ हिस्सों, गोला रोड और कुछ अन्य निचले इलाकों में अब भी हालात मुश्किल भरे हैं. इस मुद्दे को लेकर राज्य सरकार पर जहां विपक्ष हमलावर है. इस बीच जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव ने पटना में हुए जलजमाव पर जनहित याचिका दायर करने की बात कही है. उन्होंने कहा कि भाजपा और जदयू दोनों एक दूसरे को गाली देने में लगे हैं जबकि पटना की जनता मर रही है.

Loading...

इसके साथ ही पप्पू यादव ने कहा कि 2009 से 2019 तक पटना के विकास पर 23 हजार करोड और सीवरेज सिस्टम को दुरुस्त करने पर 6 हजार करोड़ रुपये खर्च किए गए, आखिर ये रुपए कहां गए? उन्होंने कहा कि जलद ही इसके लिये वे पीआईएल दायर करेंगे. पूर्व सांसद ने कहा कि मेरी मांग है कि हाई कोर्ट के जज से इसकी जांच करवाई जाए. रावण वध में किसी भाजपा नेता के सीएम नीतीश के साथ मंच पर नहीं पहुंचने के सवाल पर कहा कि यहां के नेता रावण से भी बडे रावण हैं. उन्होंने कहा कहा कि सरकार और पटना प्रशासन से अब लोगों का विश्वास उठ गया है. उन्होंने ये भी कहा कि पटना में जो भी डेंगू से पीडित लोग हैं उसका इलाज वे अपने खर्च से कराएंगे.

आपको बता दें कि पप्पू यादव ने कहा कि यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने एक बच्चे को फर्जी एनकाउंटर में मरवा दिया. पटना के हालात और यूपी के फर्जी एनकाउंटर को लेकर गुरुवार को उनकी पार्टी हर जिले में पुतला दहन करेगी राजभवन मार्च किया जाएगा. बता दें कि पूर्व सांसद पप्पू यादव ने बिहार के स्वास्थ निदेशक डॉ एम वसीम के निधन के बाद शोक संतप्त परिजनों से मुलाकात की. उन्होंने डॉ वसीम के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि वे मेरे बड़े भाई थे.

About author